क्या है LetsMD मेडिकल ईएमआई कार्ड? पाएं 5 लाख तक की क्रेडिट लिमिट

​​मनोज को आज भी वह दिन याद है, जब उसके पेट में अचानक से दर्द हुआ था और जब वह इसकी जांच कराने अस्पताल में गया, तो वहां पर डॉक्टर ने उसके स्वास्थ की जांच करके यह बताया था कि उसके पेट दर्द का मुख्य कारण गुर्दे की पथरी है।

इसके साथ में डॉक्टर ने उसे जल्द-से-जल्द ऑपरेशन कराने की भी सलाह दी थी, जिसका खर्च लगभग 1.5 लाख था, यह सुनकर वह काफी परेशान हो गया था क्योंकि उस समय उसके पास इतने पैसे नहीं थे और वह पेट के असहनीय दर्द से भी जूझ रहा था।

ऐसी स्थिति में उसके पास दो विकल्प थे- पहला, या तो वह अपनी साल भर की कमाई को इकट्ठा करें या अपने किसी दोस्त से पैसे उधार मांगे। लेकिन, क्योंकि वह असहनीय दर्द से परेशान था ऐसे में उसे तुंरत ही पैसों का जरूरत थी, जो इन दोनों ही विकल्पों से मुश्किल था।

ऐसे में डॉक्टर ने उसे मेडिकल ईएमआई कार्ड लेने की सलाह दी और यह बताया कि इसके द्वारा वह अपना इलाज आसानी से करा सकता है।

मनोज ने मेडिकल कार्ड का नाम पहली बार सुना था और इसी कारण वह इसका लाभ नहीं उठा पाया।

यदि आप भी मेडिकल कार्ड के बारे में नहीं जानते हैं तो आपको इसे लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप इस लेख को पढ़कर इस कार्ड की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

 

 

क्या है मेडिकल ईएमआई कार्ड?
 

 

मेडिकल कार्ड एक प्री-अप्रूव्ड मेडिकल लोन कार्ड है, जिसकी क्रेडिट लिमिट 30 हजार से 5 लाख रूपये तक की होती है, जिसकी सहायता से आप अपने अस्पताल के बिल का भुगतान आसान ईएमआई में कर सकते हैं।

इसके द्वारा आप अपने किसी भी आकस्मिक या योजित मेडिकल खर्चों का भुगतान कैशलेश तरीके से कर सकते हैं।

 

उदाहरण के लिए यदि आपके इलाज का खर्च रू 1.8 लाख है, तो आप LetsMD मेडिकल कार्ड से अस्पताल को एक बार में 1.8 लाख के बिल का भुगतान कर सकते हैं और वहीं पैसे आप LetsMD को बिना किसी ब्याज की आसान ईएमआई अर्थात् 18 महीनों के लिए 10,000 रूपये की ईएमआई में लौटा सकते हैं।

 

क्या हैं मेडिकल कार्ड के फायदे?
 


यह मेडिकल कार्ड काफी किफायती है, जिसके कुछ महत्वपूर्ण लाभ होते हैं। यदि कोई व्यक्ति इस कार्ड को खरीदता है, तो उसे निम्नलिखित फायदे मिलते हैं-
 

  • 2 घंटों में पैसों का मिलना- जहां एक ओर, अन्य फांइनेंस कंपनियां कार्ड या लोन को देने में काफी समय लगाती हैं, वहीं दूसरी ओर LetsMD अपने ग्राहकों को यह मेडिकल कार्ड काफी कम समय में उपलब्ध कराती है और इसके ग्राहकों को 2 घंटे से भी कम समय में ही चिकित्सा नकद या पैसा मिल जाता है।

     

  • किसी ब्याज का भुगतान न करना-  मेडिकल कार्ड की अन्य विशेषता यह है कि इसे लेने के बाद व्यक्ति को 18 तक कोई भी ब्याज देने की जरूरत नहीं पड़ती है, जबकि अन्य क्रेडिट कार्ड में कुछ निश्चित समय जैसे 40 या 45 दिनों के बाद उच्च ब्याज दर में पैसा लौटाना होता है।

     

  • 1+3 परिवार के सदस्यों के लिए मान्य होना- अक्सर, आपने देखा होगा कि कई कंपनियों की मेडिकल इंशोरेंस पॉलिसी केवल उसी व्यक्ति के लिए मान्य होती है, जो उसे लेता है और यदि वह व्यक्ति अपने परिवार के अन्य सदस्यों को उस पॉलिसी में शामिल करना चाहता है, तो उसके लिए उसे दूसरी मेडिकल लोन पॉलिसी लेनी पड़ती है, या फिर अधिक प्रीमियम देना होता है।

    लेकिन, इस मेडिकल कार्ड की प्रमुख विशेषता यह है कि यह मेडिकल कार्ड 1+3 परिवार के सदस्यों के लिए मान्य है, इसके साथ में यदि इस मेडिकल कार्डधारक के परिवार के अन्य सदस्य इस कार्ड का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो इसके लिए उसे मात्र 500 रूपये देने होते हैं, जिससे आप परिजनों का भी इलाज करा सकते हैं।  


     

  • 5 लाख तक की क्रेडिट लिमिट का मिलना- इस मेडिकल कार्ड में सिर्फ रूपये 2.74 दिन की दर पर 5 लाख तक की क्रेडिट लिमिट मिलती है।

    इसका अर्थ है कि कार्डधारक 5 लाख तक का उपचार इस मेडिकल कार्ड के माध्यम से करा सकता है, जो अन्य मेडिकल पॉलिसी की तुलना में काफी सस्ती है।


     

  • मेडिकल इंशोरेंस डिडक्टिबल्स का भी कवर होना- कुछ मेडिकल इंशोरेंस पॉलिसी को लेते समय बहुत सारी चीज़ों के बारे में व्यक्ति को बताया नहीं जाता है और जब वह स्वेच्छा से कोई इलाज या सर्जरी जैसे आईवीएफ, हेयर ट्रांसप्लांट, कॉस्मेटिक सर्जरी, अंग प्रत्यारोपण इत्यादि कराता है तो वह उस स्थिति में इंशोरेंस कंपनी उस खर्चे को उठाने से मुकर जाती हैं, लेकिन इस मेडिकल कार्ड में ऐसी कोई सीमाएं नहीं हैं और इसके माध्यम से व्यक्ति किसी भी तरह के इलाज को करा सकता है।

    इस प्रकार, इस मेडिकल कार्ड में सभी तरह के इलाज एवं सर्जरी को कवर किया जाता है।


     

  • आकस्मिक दुर्घटना पर 2 लाख तक के कवर का होना- यह इस मेडिकल कार्ड का प्रमुख फायदा है कि यदि कोई व्यक्ति दुर्घाटनाग्रस्त हो जाता है, तो उस स्थिति में उसे क्रेडिट लिमिट के अलावा 2 लाख तक का कवर भी मिलता है।

    इसका अर्थ है कि वह 2 लाख के उपचार का भुगतान इस कार्ड के माध्यम से कर सकता है।  

 

 

मेडिकल कार्ड के प्रकार-
 

 

इस मेडिकल कार्ड के मुख्य रूप से 2 प्रकार हैं-

 

 

  1. बेस कार्ड या गोल्डन कार्ड- यह मेडिकल कार्ड का पहला एवं सामान्य प्रकार है, जिसे बेस कार्ड या गोल्डन कार्ड के नाम से जाना जाता है।

    बेस या गोल्ड कार्ड की अपनी कुछ विशेषताएं जैसे 30 हजार तक की क्रेडिट लिमिट का होना, 15 हजार तक की आय वाले व्यक्ति के लिए मान्य, मेडिकल लोन के 18 महीने तक के पुर्नभुगतान पर कोई ब्याज दर नहीं इत्यादि होती हैं।


     

  2. प्रीमियम कार्ड या प्लेटिनम कार्ड- यह मेडिकल कार्ड का दूसरा एवं विशिष्ट प्रकार का कार्ड है, जिसे प्रीमियम कार्ड या प्लेटिनम कार्ड के नाम से जाना जाता है।

    इस कार्ड में बेस कार्ड की सुविधाएं भी शामिल होती हैं। इसके कार्ड के द्वारा व्यक्ति LetsMD के पैनल में शामिल अस्पतालों में 4 ओ.पी.डी मुफ्त में करा सकता है, इस कार्ड में फार्मेंसी, ओ.पी.डी और आई.पी.डी पर भी छूट दी जाती है।

 

 

मेडिकल कार्ड में कौन से अस्पताल एवं सर्जरी कवर हैं?
 

 

यह मेडिकल कार्ड दिल्ली-NCR के लगभग 1200 से अधिक अस्पतालों में मान्य हैं, जहां पर तकरीबन 1000 से अधिक सर्जरियों को कराया जा सकता है।


इस मेडिकल कार्ड का इस्तेमाल कई मशहूर अस्पतालों जैसे मेदांता, सर गंगाराम, फोर्टिस, मैक्स, जे. पी इत्यादि में किया जाता है।

 

इसके साथ में यदि कोई व्यक्ति मेडिकल कार्ड को लेता है, तो वह इसके माध्यम से कई सारी बीमारियों का उपचार एंव सर्जरी करा सकता है, जिनमें से प्रमुख बीमारी आईवीएफ, कॉस्मेटिक, दंत उपचार, अंग प्रत्यारोपण, ट्रांसप्लांट, इत्यादि हैं।

 

 

मेडिकल कार्ड की क्रेडिट लिमिट कितनी है?

 


हर कंपनी अपने कार्डधारकों को क्रेडिट कार्ड में निश्चित क्रेडिट लिमिट प्रदान करती है, यह मुख्य रूप से कार्डधारक के लिए पैसा खर्च करने की सीमा होती है।

यदि LetsMD के मेडिकल कार्ड की बात की जाए तो इसकी क्रेडिट लिमिट 30 हजार से 5 लाख तक होती है, जिसका अर्थ है कि कोई भी व्यक्ति इस कार्ड की सहायता से अपनी क्रेडिट लिमिट तक का उपचार करा सकता है।

 


किसी भी व्यक्ति को कितनी क्रेडिट लिमिट मिलेगी, इसका निर्णय मुख्य रूप से 2 निम्नलिखित बातों के आधार पर किया जाता है-

 

  1. सिबिल स्कोर- मेडिकल कार्ड को देने से पहले हर व्यक्ति का सिबिल स्कोर को देखा जाता है। सिबिल स्कोर मुख्य रूप से व्यक्ति के लोन लौटाने की योग्यता होती है, जो इस बात का प्रमाण देता है कि वह समय पर लोन लौटाता है अथवा नहीं।
     

     

  2. आय या सैलरी- इस कार्ड को व्यक्ति की आय या सैलरी के आधार पर भी दिया जाता है।

    मेडिकल कार्ड को देते समय इस बात को देखा जाता है कि व्यक्ति की सैलरी उसके बैंक के खाते में आती है या फिर उसे यह नकद में मिलती है।

 

क्या है मेडिकल कार्ड के अप्लाई की प्रक्रिया?

 

 

मेडिकल कार्ड के अप्लाई की प्रक्रिया काफी आसान है, यदि कोई व्यक्ति इस कार्ड को प्राप्त करना चाहता है तो वह या तो नीचे दिए लिंक पर क्लिक कर सकता है या फिर वह इसके लिए नीचे दिए नंबर पर भी Missed Call कर सकता है -


 

LetsMD के लिंक पर क्लिक करना

 

95558-12112 पर Missed Call देना


जैसे ही आप LetsMD से संपर्क करते हैं, वैसे ही हमारे अधिकारी 24 घंटों के भीतर आपको कॉल करते हैं। इसके बाद आपको आवश्यक दस्तावेज जमा करने होते हैं और उनके आधार पर क्रेडिट लिमिट दी जाती हैं।

क्रेडिट लिमिट के अनुसार आप मेडिकल कार्ड से अपने उपचार का भुगतान कर सकते हैं और फिर आप हमें इसे आसान ईएमआई पर लौटा सकते हैं।

 

 

मेडिकल कार्ड के आवश्यक दस्तावेज क्या हैं?

 

 

आपने अक्सर यह देखा होगा कि अधिकांश फाइनेंस कंपनियां अपने कार्ड या लोन को देने के लिए ग्राहकों से कई सारे दस्तावेजों की मांग करती हैं। लेकिन, यदि LetsMD मेडिकल कार्ड की बात की जाए, तो यह कंपनी बहुत ही कम दस्तावेजों के आधार पर इस मेडिकल ईएमआई कार्ड को मुहैया कराती है।


यदि कोई व्यक्ति इस मेडिकल कार्ड को प्राप्त करना चाहता है तो उसके वह अपने पहचान प्रमाण पत्र और निवास प्रमाण पत्र को जमा करके इस कार्ड को पा सकता है और इसके द्वारा अस्पताल के मंहगे बिल का भुगतान 18 से 36 महीनों की आसान किस्तों में कर सकता है।

 

 

मेडिकल कार्ड के बारे अधिक जानकारी के लिए यह वीडियो देखें : 

 

 


हर व्यक्ति काफी मेहनत से पैसा कमाता है और इसके साथ में वह यह चाहता है कि वह इसका इस्तेमाल जरूरत पड़ने पर ही करें।

लेकिन, जब वह या उसके परिवार का कोई सदस्य बीमार हो जाता है, तब उसे न चाहते हुए भी अपनी ज़िदगी भर की इस कमाई का इस्तेमाल करना पड़ता है।

ऐसे में यदि उसके पास कोई ऐसा तरीका हो, जिसके माध्यम से उस पर आर्थिक बोझ न पड़े और वह बिना किसी चिंता के अपना इलाज करा सके।

इसी स्थिति में LetsMD मेडिकल कार्ड काफी उपयोगी साबित हो सकता है, जो जरूरतमंद लोगों को पैसा मुहैया कराता है, जिसके माध्यम से वे अपना इलाज मनपंसद अस्पताल में करा सकते हैं।

अंत में अब और देर न करें, आज ही LetsMD मेडिकल कार्ड के लिए अप्लाई करें और अपने एवं अपने परिवार के सदस्यों के भविष्य को सुरक्षित करें।